पाठ्यक्रम उद्देश्य

स्नातक और स्नातकोत्तर दोनों स्तर पर एनआईडी में शिक्षा कार्यक्रमों के व्यापक उद्देश्य, यहाँ पर सूचीबद्ध हैं। हर एक डिसिप्लिन (व्यवस्था) के तहत शिक्षा कार्यक्रम इस तरीके से ड़िजाइन किया गया है जिसके माध्यम से छात्र एक समन्वित तरीके से अपने पाठ्यक्रम के माध्यम से प्रगति करने में सक्षम बन सके। पाठ्यक्रम इस तरह के हों जिससे नये अनुभवात्मक और खोजपूर्ण सीखने के तरीके उत्पन्न किये जा सकें जिससे उच्च स्तर के नये रचनात्मक खोज और गुणवत्ता को समझा और प्राप्त किया जा सके। यहाँ पर छात्र केन्द्रित पाठ्यक्रम का एक लचीला ढाँचा तैयार किया गया हैं जहां पाठ्यक्रम और असाइनमेंट में रचनात्मक अभिव्यक्ति और बहु आयामी सीख लाने में सक्षम हैं। प्रतीक एसे होने चाहिए जिससे ऐतिहासिक, समकालीन और व्यक्तिगत चिंताओं के संदर्भ में सांस्कृतिक, सामाजिक और प्रौधोगिकीय विकास की समझ के माध्यम से शिक्षा के क्षेत्र में विभिन्न आयामों को प्राप्त करने योग्य मौका प्रदान करना चाहिए। प्रत्येक पाठ्यक्रम के लिए मूल्य और मानक, सीखने के उद्देश्य पूर्व निर्धारित हैं लेकिन संदर्भ और प्रासंगिकता ड़िजाइन पेशे में समय के साथ आए बदलाव और छात्रों के तरीकों और प्रदर्शन के आधार पर शिक्षकों द्वारा पाठ्यक्रम में बदलाव किया जाता है। हमारी कोशिश अंततः विषय और प्रगतिशील ज्ञान प्रदान करना है परंतु पेशेवर ड़िजाइन अभ्यास के अनुकूल जिससे हम भटके नहीं और एक समय में ड़िजाइन के किसी एक केन्द्रित क्षेत्र में विशेषज्ञता हासिल करा पाएं। नवीन और खोजपूर्ण सोच, आवश्यक तकनीकी कौशल और उपयुक्त पेशेवर संदर्भ में अलग-अलग ड़िजाइन दृष्टिकोण का पता लगाने की क्षमता विकसित करने के पर्याप्त अवसर होना चाहिए। छात्रों में सामाजिक और व्यावसायिक प्रतिबद्धता की भावना विकसित करने हेतु बनाना। उन्हें व्यावसायिक निर्णयों के लिए खुद जिम्मेदारी लेना सीखना चाहिए। उनके अंदर समन्वित तरीके से महत्वपूर्ण विश्लेषणात्मक, काल्पनिक और चिंतनशील समस्या को सुलझाने के कौशल को विकसित करने की क्षमता विकसित करना।

परिदृश्य के साथ-साथ उपयोग कर्ता आधारित और संस्कृति केंद्रित ड़िजाइन के दृष्टिकोण को समझने की क्षमता विकसित करना। तकनीकी, प्रबंधकीय और ड़िजाइन के मूल सिद्धांतों का पूरी तरह से वास्तविक जीवन की परिस्थितियों के साथ समझ प्रदान करना जिससे लोग ये समझ सके कि बौद्धिक, रचनात्मक और अन्य कौशल उपयोगकर्ता कैसे उपयोगकर्ता समाज और उद्योग को लाभ पहुँचा सकते हैं।

© 2016 NATIONAL INSTITUTE OF DESIGN