प्रद्युम्न व्यास

प्रद्युम्न व्यास ने इंडस्ट्रियल डिज़ाइन में परास्नातक उपाधि इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, बॉम्बे से प्राप्त की है। इन्हें डिज़ाइन के व्यावसायिक और शिक्षण के विभिन्न क्षेत्रों में 27 साल का अनुभव है। पिछले 22 वर्षों से वे एनआईडी में इंडस्ट्रियल डिज़ाइन अनुशासन में एक संकाय हैं और सामाजिक और सतत विकास के हस्तक्षेप के लिए लघु तथा मझौले उद्योगों और शिल्प में उनकी विशेष रूचि है। इन्होंने अप्रैल 2009 से संस्थान के निदेशक के रूप में प्रभार लिया। इन्हें दो साल बम्बई में प्रॉडक्ट डिज़ाइन और 3 साल के प्रवासी अनुभव किलकेन्नी डिज़ाइन केन्द्र, आयरलैंड गणराज्य में है। इन्होंने भारत में प्रमुख डिज़ाइन को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न कार्यक्रम समन्वित किए हैं। विभिन्न राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय कार्यक्रमों में एनआईडी का प्रतिनिधित्व किया जिसमें आईसीएसआईडी (इंटरनेशनल काउंसिल ऑफ सोसाइटीज ऑफ इंडस्ट्रियल डिज़ाइन) ताइवान, कोरिया, जर्मनी, डेनमार्क, संयुक्त राज्य अमरीका और सिंगापुर में हुए कांग्रेस में शामिल रहे हैं। इन्होंने एनआईडी का एशिया नेटवर्क डिज़ाइन, जापान में प्रतिनिधित्व किया। इन्हें 2009-11 के लिए एक आईसीएसआईडी के कार्यकारी बोर्ड के सदस्य के रूप में चुना गया है। फरवरी 2007 में मंत्रिमंडल द्वारा राष्ट्रीय डिज़ाइन नीति के स्वीकृत अनुसरण में, मार्च 2009 में एक भारत डिज़ाइन परिषद का गठन किया था और प्रद्युम्न को वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय, भारत सरकार के द्वारा इसके सचिव सदस्य के रूप में नामित किया गया है। जून 2010 में, डिज़ाइन शिक्षा और संवर्धन में इनके कई योगदान के लिए "यूनिवर्सिटी फॉर दा क्रियेटिव आर्ट्स फार्नम, युनाइटेड किंग्डम से एक मानद मास्टर ऑफ आर्ट्स की मान्यता से सम्मानित किया गया। जुलाई 2011 में, एशिया के दूसरा सर्वश्रेष्ठ बी स्कूल पुरस्कार के लिए डिज़ाइन शिक्षा में उत्कृष्ट योगदान उपलब्ध करने के लिए सिंगापुर में पुरस्कार दिया गया। ।

pradyumna[at]nid [dot]edu

उत्तरदायित्व

  • निदेशक
© 2016 NATIONAL INSTITUTE OF DESIGN