कृष्ण अमीन पटेल

कृष्ण अमीन पटेल, एनआईडी में डिज़ाइन शिक्षक के रूप में लगभग चार दशक बिताए हैं। इन्होंने भी अमरीका भर में विभिन्न डिज़ाइन संस्थानों में पढ़ाया है। वे 1977-1980  से एनआईडी की अतिथि संकाय थी। 1981–1997 के लिए, यह एक पूर्ण समय संकाय थी इस समय के दौरान कृष्णा ने बुनियादी और उन्नत पाठ्यक्रमों दोनों टेक्सटाइल डिज़ाइन और अपैरल डिज़ाइन में पढ़ाया और सक्रिय रूप से दोनों विषयों के पाठ्यक्रम के विकास के समन्वयक और संकाय क्षमता में योगदान दिया। एनआईडी में उनके कार्यकाल के दौरान, इन्होंने अंतर्राष्ट्रीय ऊन सचिवालय के साथ सहयोग के परिणामस्वरूप निटवेयर डिज़ाइन में एक कोर्स शुरू किया था। इन्होंने बच्चों के पहनने और पुरुषों के वस्त्र के क्षेत्र में पाठ्यक्रम पेश किया। कृष्ण एनआईडी द्वारा 1970 के दशक में किया 'जवाजा परियोजना' का एक महत्वपूर्ण हिस्सा थी। बुनाई इनका रूचि  क्षेत्र होने के नाते, इन्होंने संरचना और सामग्री आधारित अनुसंधान एनआईडी में  शुरू किया। कृष्णा ने इतिहासकार लोटिका वरदराजन के साथ एक व्यापक टोम नामक : ''फाइबर और लूम :द इंडियन ट्रेडिशन'' की  सह लेखक हैं।  कृष्ण कालरक्षा विद्यालय, कच्छ में सलाहकार और पाठ्यचर्या विकास समन्वयक थीं। इस समय यह संस्थान में अतिथि संकाय भी थी। 2002 में, इन्होंने एरिजोना राज्य विश्वविद्यालय, संयुक्त राज्य अमेरिका से एम.एफ.ए किया था। 2004 में इनका काम 'फाइबर आर्ट्स  डिज़ाइन पुस्तक 7'  में प्रकाशित किया गया था। नवंबर 2011 में कृष्णा फिर से एनआईडी में एक संकाय के रूप शामिल हो गयी। इन्होंने देश के भीतर और विदेशों में कई विशेषाधिकार प्लेटफार्मों पर अपने काम का प्रदर्शन किया है।

krishna_a[at]nid [dot]edu

उत्तरदायित्व

  • केन्द्र प्रमुख, पीजी परिसर, गांधीनगर
© 2016 NATIONAL INSTITUTE OF DESIGN