रूपेश व्यास

रूपेश व्यास कम्यूनिकेशन डिज़ाइन में एक वरिष्ठ संकाय एवं एनआईडी के ऑनलाइन कार्यक्रमों के गतिविधि अध्यक्ष हैं। हाल ही में उन्हें सूचना प्रौद्योगिकी के प्रमुख और ग्राफिक डिज़ाइन का समन्वयक बनाया गया है। वे इंटरनॅशनल इन्स्टिट्यूट ऑफ इन्फर्मेशन डिज़ाइन (आईआईआईडी) जो वियाना, आस्ट्रिया में आधारित है, के बोर्ड सदस्य हैं। इन्होंने विज़ुअलाइज़ेशन में स्नातकोत्तर डिग्री और स्नातक स्तर में एप्लाइड आर्ट्स (ग्राफिक डिज़ाइन) की पढाई एम. एस यूनिवर्सिटी ऑफ बड़ौदा से किया है। इन्हें कम्यूनिकेशन डिज़ाइन शिक्षा, अनुसंधान और व्यावसायिक परियोजनाओं में 17 साल का अनुभव है। 2002 में एनआईडी से जुड़ने से पहले वे एम. एस बड़ौदा विश्वविद्यालय में ललित कला संकाय के एक व्याख्याता थे। इनके शैक्षणिक और व्यावसायिक हितों के व्यापक क्षेत्र हैं, जिसमें विजुअल आइडेंटिटी डिज़ाइन, स्टेटिक ऐंड डाइनमिक ग्राफिक एप्लिकेशन, डॉक्युमेंटेशन ऑफ विजुअल कल्चर ऑफ इन्डिया, कलर इन एनालॉगस ऐंड डिजिटल मीडियम, वे फाइंडिंग सिस्टम्स, इन्फोरमेशन ग्राफिक्स, कॉंप्लेक्स इन्फर्मेशन सिस्टम्स ऐंड विजुअल डाइयग्रेमिंग शामिल हैं। सामाजिक रूप से रणनीतिक डिज़ाइन नवाचारों के साथ प्रासंगिक मुद्दों और, इंटरफेस के नए तरीकों की खोज, इंटरैक्शन ऐंड इंटरफेसस इन गवर्नेन्स, सामाजिक सेक्टर और पब्लिक डोमेन में उनकी विशेष रुचि है। इन्होंने काफी कुछ राष्ट्रीय महत्व वाले प्रमुख परियोजनाओं में अपना बहुमूल्य योगदान दिया है, जैसे भारत जनगणना 2011 के लिए डेटा संग्रह और डिजिटलीकरण की प्रक्रिया के लिए सूचना डिज़ाइन, भारत के गृह मंत्रालय सरकार से भारत के नागरिकों के लिए बहुउद्देशीय राष्ट्रीय पहचान पत्र, स्मार्ट कार्ड आधारित भारतीय संघ ड्राइविंग लाइसेंस, राष्ट्रीय स्तर के कार्यान्वयन के लिए विज़ुअल डिज़ाइन का मानकीकरण, सड़क परिवहन मंत्रालय और राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केन्द्र, भारत सरकार द्वारा। इन्होंने विभिन्न राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलनों में अपना प्रपत्र प्रस्तुत किया है जैसे जापान में आईसीओजीआरएडीए, आइआइआइडी, वियना, आस्ट्रिया द्वारा यातायात गाइडिंग सिस्टम पर विशेषज्ञ फोरम, श्वॉर्ज़नबर्ग में 'विजन प्लस 12 ", सार्वजनिक स्थलों में जानकारी के उत्पादों में डिज़ाइनिंग पर ऑस्ट्रिया, वर्नाकुलर पर कोरिया डिजिटल डिज़ाइन अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन में सूचना उत्पाद में डिजाइनिंग के दृष्टिकोण। सूचना कनेक्टिविटी प्रणाली यूनेस्को द्वारा वित्त पोषित यूरोपीय संघ परियोजना के लिए (आईसीएस) वे एक वैज्ञानिक सलाहकार बोर्ड सदस्य भी हैं। यह भारत में 'विजन प्लस 2010' सम्मेलन (डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू.आईआईडी) एनआईडी में मेजबानी के प्रमुख योजनाकार और अध्यक्ष थे। 'विजन प्लस', द्वारा शुरू की सूचना डिज़ाइन के सभी पहलुओं को समर्पित, सम्मेलनों की एक अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मान्यता प्राप्त श्रृंखला है, जो 14 देशों से राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय विद्वानों और विशेषज्ञों को आमंत्रित किया और समुदाय, स्वास्थ्य, और गतिशीलता के डोमेन में मुद्दों संलग्न की एक विस्तृत रेंज को कवर किया।

rupeshv[at]nid [dot]edu

उत्तरदायित्व

  • गतिविधि अध्यक्ष, उद्योग एवं ऑनलाइन कार्यत्रम
© 2016 NATIONAL INSTITUTE OF DESIGN